Grab the widget  Get Widgets

reward me free sg

A

a tag

chi

via converter

Thursday, February 28, 2013

पेश है मुफ्त प्रीमियम ब्लॉग SWT Master टेम्पलेट्स | ultapulta

पेश है मुफ्त प्रीमियम ब्लॉग SWT Master टेम्पलेट्स | ultapulta:

'via Blog this'

Wednesday, February 27, 2013

Tuesday, February 26, 2013

Balena Blogger template - BTemplates

Balena Blogger template - BTemplates

live demo
Features:
Instructions:Template Settings / How to install a Blogger template
  • To edit the social icons links you need to search and changes the urls directly in your template code.
Template author:NBThemes
Designer:
Description:
Balena is a free blogger template adapted from WordPresswith 2 columns, right sidebar, footer columns, social bookmarking icons, posts thumbnails and vintage style.
Excellent layout for blogs about art, education or personal issues.
Download Balena for free in BTemplates.
Rating
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars
Compatible with:

Monday, February 25, 2013

Manage Blogger Custom Robots Tags ब्लॉगर रोबॉट टैग प्रबंधन « Tech Prevue

Manage Blogger Custom Robots Tags ब्लॉगर रोबॉट टैग प्रबंधन « Tech Prevue
ब्लॉगर निरंतर SEO सुधारने के लिए प्रयासरत है। इसका आपको लाभ यह है कि आपके ब्लॉग पर लिखा जाने वाला लेख, कविता इत्यादि अन्य सामग्री गूगल, याहू, बिंग जैसे सर्च इंजनों तक सरलता से पहुँचेगी। जिससे आपके ब्लॉग के पाठकों की संख्या में निरंतर वृद्धि होगी।

अपने ब्लॉग का SEO सुधारने के लिए अब ब्लॉगर पर आपको Custom Robots Tags नाम का विकल्प उपलब्ध रहेगा जिससे अपने ब्लॉग की गूगल, याहू, बिंग जैसे सर्च इन्जनों के लिए प्रबंधित कर पायेंगे।

Custom Robots Tags को ब्लॉगर पर प्रबंधित करना


  1. ब्लॉगर Dashboard पर जायें ¬> Blog चुनें ¬> Settings पर क्लिक करें ¬> Search Preferences पर क्लिक करें ¬> Custom Robots Header Tags के आगे लिखे EDIT पर क्लिक करें
  2. अब Yes पर क्लिक करके अपनी ब्लॉग के लिए Custom Robots Tags की सेटिंग को Home page, Archives and Search pages और Default for Posts and Pages के लिए प्रबंधित कर लें।

आपकी अधिक सहायता के लिए नीचे चित्र दिये जा रहे हैं


Custom Robots Header Tags Management in Blogger


Custom Robots Header Tags Management in Blogger

Custom Robots Header Tags Management in Blogger


सारणी में Custom Robots Tags को संक्षिप्त रूप में बताया जा रहा है


DirectiveMeaning
allइसका अर्थ है कि आपका ब्लॉग अनुक्रमण (indexing) या सेवा हेतु उपलब्ध है और गूगल खोज परिणामों में दर्शाया जायेगा। यह ब्लॉगर के लिए पूर्व निर्देशित है और इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ता यदि आप इसे टेम्पलेट में पुन: निर्देशित करते हैं।
noindexआपके ब्लॉग या आपके ब्लॉग पेज को खोज परिणामों में दर्शाया नहीं जायेगा और खोज परिणामों से "Cached" लिंक निकाल दिया जायेगा
nofollowब्लॉग या ब्लॉग पेज पर दिये गये लिंक को खोज परिणामों में दर्शाया नहीं जायेगा
noneइसका मान "noindex, nofollow" के समतुल्य होता है
noarchiveखोज परिणामों से "Cached" लिंक निकाल दिया जायेगा आपके ब्लॉग के लेखक की तस्वीर और रेटिंग इत्यादि नहीं दर्शायी जायेगी।
nosnippetखोज परिणामों से " snippet " निकाल दिया जायेगा। "snippet" के अंर्तगत खोज परिणामों में
noodpOpen Directory project से ब्लॉग लेखों के लिए शीर्षक और snippets के लिए मेटाडेटा प्रयोग नहीं किया जायेगा।
notranslateखोज परिणामों से "translation" विकल्प उपलब्ध नहीं होगा।
noimageindexखोज परिणामों छायाचित्र, चित्र, फोटो आदि शामिल नहीं होंगे।
unavailable_after:
[RFC-850 date/time]
खोज परिणामों में निर्धारित तिथि/समय के बाद ब्लॉगर पृष्ठ को नहीं दिखाया जायेगा।
इसके लिए तिथि/समय को RFC 850 format के अनुरूप होना चाहिए।

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।

Shaadi.com Indian Matrimonials

Sunday, February 24, 2013

Edit Blogger Post Permalink ब्लॉगर पोस्ट पता कैसे बदलें « Tech Prevue

Edit Blogger Post Permalink ब्लॉगर पोस्ट पता कैसे बदलें « Tech Prevue

How to Edit/Change Blogger Posts Permalinks

पहले जब आप कोई पोस्ट तैयार करते थे तो उसका परमालिंक "http://yourblogname.blogspot.com/2012/07/blog_post_xx.html" कुछ यूँ या इससे मिलता जुलता होता था जो कि रैंडम्ली (Randomly) स्वत: ही ब्लॉगर द्वारा चुन लिया जाता था। ख़ासकर ब्लॉगर ऐसा हिंदी या अन्य एशियाई भाषाओं के लिए करता था और यदि आप अपनी पोस्ट का शीर्षक हिंदी में लिख रहे हैं तो यह आज होता है। बहुत से एशियाई ब्लॉगर इस वजह से अपने ब्लॉग का अच्छा और प्रभावकारी SEO (Search Engine Optimization) नहीं कर पा रहे थे क्योंकि गूगल खोज के दौरान इनपरमालिंक का बहुत महत्वपूर्ण योगदान होता है। यदि परमालिंक ठीक न हों तो आपके ब्लॉग से सम्बंधित खोज परिणाम ठीक नहीं आते और आपके ब्लॉग की स्थिति खोज परिणामों में पिछड़ती जाती है। जिन्हें इस बात का ज्ञान था वो अपनी पोस्ट का शीर्षक अंग्रेजी में लिखते थे और पोस्ट पब्लिश कर देते थे और तुरंत ही शीर्षक को बदलकर हिंदी में कर देते थे। लेकिन बहुत से लोग अलस्यवश या इस बात की जानकारी न होने के कारण ऐसा नहीं करते हैं। जिससे उनके ब्लॉग पर गूगल (Google), याहू (Yahoo), बिंग (Bing), यांडेक्स (Yandex) जैसे सर्च इंजनों से बहुत कम पाठक आ पाते हैं।

ब्लॉगर ने इसका एक उपाय निकाला और पोस्ट के लिए परमालिंक जोड़ने का विकल्प दे दिया है।
जिसके बारे में अधिक जानने के लिए इस ब्लॉग पर प्रकाशित यह पोस्ट [ब्लॉगर में SEO फ्रैंडली 'कस्टम URL' विकल्प] पढ़िए।
यदि आप ब्लॉगर SEO से सम्बंधित अंधिकांश जानकरी चाहते हैं तो यह पोस्ट [बेहतर ब्लॉगिंग के लिए नये SEO गुण चालू करें] पढ़ें और आगामी पोस्टें भी देखते रहें।

Example of Blogger Blog Posts Permalinks
http://techprevue.blogspot.com/2012/07/customized-permalinks-by-blogger-to-make-better-seo.html

अब तक तो आप परमालिंक को समझ चुके होंगे। आइए अब बात करते हैं, ब्लॉगर में किसी पोस्ट का परमालिंक बदलने की।
इसके लिए आपको यह निम्न चरण (Steps given below) अपनाने होंगे।

  1. सबसे पहले ब्लॉगर डैशबोर्ड पर जाइए
  2. अपना ब्लॉग चुनिए
  3. फिर बायीं ओर दी गयी साइडबार में पोस्ट टैब (Posts Tab) पर क्लिक कीजिए
  4. यहाँ पर अब आपको सभी प्रकाशित पोस्टें (Published Posts) दिख रही होंगी।
  5. जिस पोस्ट का परमालिंक आपको बदलना है उस पर माउस एरो ले जायें जिससे आपको पोस्ट को एडिट (Edit) करने का विकल्प दिखने लगेगा।
  6. अब एडिट (Edit) पर क्लिक कीजिए
  7. अब आपको अपनी पोस्ट के शीर्षक के पास Update विकल्प के साथ अगला विकल्प Revert to Draft दिख रहा होगा।
  8. अब उसपर क्लिक कीजिए अब परमालिंक विकल्प की कड़ी पर क्लिक कीजिए अब Custom Permalink विकल्प को चुनिए और अपना मनचाहा पोस्ट परमालिंक भर दें और Done कर दें।
  9. इसके बाद पोस्ट को पुन: प्रकाशित (Publish) कर दें।
विशेष:
ब्लॉगर परमालिंक बनाते समय ध्यान रखें कि परमालिंक में अंग्रेजी वर्ण (a to z; A to Z), संख्याएं (0 to 9) और स्पेशल कैरेक्टर डैश (-) और डॉट (.) का ही प्रयोग किया जा सकता है। अर्थात्‌ परमालिंक केवल निम्न प्रकार से ही हो सकता है।
  1. edit-blogger-posts-permalink
  2. edit.blogger-posts.permalink-123.45

Reference Images:


Editing Blogger Posts Permalinks

Editing Blogger Posts Permalinks
Click Image to See Full Size

बस यूँ कुछ क्षणों में बदल जाता है आपकी पोस्ट का परमालिंक। अब आनंद उठाइए ब्लॉगर पर SEO Friendly Posts Permalinks का जो कि आपके ब्लॉग या साइट पर गूगल द्वारा अधिकाधिक पाठक लाने में सहायता करेगा।

अन्य सम्बंधित कड़ियाँ:
  1. बेहतर ब्लॉगिंग के लिए नये SEO गुण चालू करें
  2. http://techprevue.blogspot.com/...all-new-seo-features.html
  3. ब्लॉगर में SEO फ्रैंडली 'खोज विवरण' विकल्प
  4. http://techprevue.blogspot.com/...for-blogger-post.html
  5. Blogger पर Custom Robots Tags का प्रबंधन
  6. http://techprevue.blogspot.com/...robots-header-tags.html
  7. ब्लॉगर में SEO फ्रैंडली 'कस्टम URL' विकल्प
  8. http://techprevue.blogspot.com/...to-make-better-seo.html



Shaadi.com Indian Matrimonials

Saturday, February 23, 2013

पेज नेविगेशन में अगली-पिछली पोस्ट का शीर्षक दिखायें « Tech Prevue

पेज नेविगेशन में अगली-पिछली पोस्ट का शीर्षक दिखायें « Tech Prevue

ब्लॉगर में डिफ़ाल्ट सेटिंग के अंतर्गत जब आप पोस्ट पढ़ते हैं तो अगली पोस्ट पर जाने के लिए अगली पोस्ट और पिछली पोस्ट पर जाने के लिए पिछली पोस्ट पर क्लिक करके जाते हैं यदि ऐसा हो कि अगली और पिछली पोस्ट की जगह पोस्टों का शीर्षक दिखे तो कितना अच्छा रहेगा। इसी उपाय के लिए मैं यह पोस्ट लिख रहा हूँ आशा है कि आपको यह बहुत पसंद आयेगी।Enhanced blogger page navigation


Page Navigation with Next-Previous Post Title

ऐसा करना बहुत ही सरल है।


  1. आप सबसे पहले ब्लॉगर इन ड्राफ्ट में जायें
  2. फिर अपने ब्लॉग के टेम्पलेट पर जायें और Edit HTML पर क्लिक करें
  3. फिर आगे बढ़े (Proceed) पर क्लिक करें
  4. अब </head> कोड की खोज CTRL+F के ज़रिए करें
  5. और ठीक उसके ऊपर यह नीचे दिया गया कोड पेस्ट कर दें
  6. <b:if cond='data:blog.pageType == &quot;item&quot;'>
    <script type='text/javascript'>
    //<![CDATA[
    $(document).ready(function(){
    var newerLink = $("a.blog-pager-newer-link").attr("href");
    $("a.blog-pager-newer-link").load(newerLink+" .post-title:first", function() {
    var newerLinkTitle = $("a.blog-pager-newer-link").text();
    $("a.blog-pager-newer-link").text("← " + newerLinkTitle);
    });
    var olderLink = $("a.blog-pager-older-link").attr("href");
    $("a.blog-pager-older-link").load(olderLink+" .post-title:first", function() {
    var olderLinkTitle = $("a.blog-pager-older-link").text();
    $("a.blog-pager-older-link").text(olderLinkTitle + " →");//rgt
    });
    });
    //]]>
    </script>
    </b:if>
    
  7. अब अपना टेम्पलेट सहेज दें और अपने ब्लॉग की कोई भी पोस्ट खोलकर देखें।

इसे प्रयोग करने से पूर्व आप इस स्क्रिप्ट को यहाँ: गुलाबी कोंपलें पर सजीव देख सकते हैं। इसके लिए आप कोई भी एक पोस्ट खोलकर देख लेंShaadi.com Indian Matrimonials

free download software,DO YOU KNOW: कुछ सॉफ्टवेर जो उपयोगी हैं

DO YOU KNOW: कुछ सॉफ्टवेर जो उपयोगी हैं: इंटरनेट से बड़ी फाइल्स को डाउनलोड करना तब मुश्किल हो जाता है, जब इंटरनेट कनेक्शन की स्पीड कम हो या वह बार-बार टूटता हो। हम आपको कुछ ऐसे ...

Custom robots.txt management - Blogger SEO « Tech Prevue

Custom robots.txt management - Blogger SEO « Tech Prevue

Blogger Custom Robots.txt Management

Custom Robots.txt एक विधि है जो गूगल सर्च (Google Search) को यह निर्देशित करती है कि आप अपने ब्लॉग पर किन पेजों को क्राल (Crawl) नहीं करने देना चाहते हैं। क्राल करना यानि आपके ब्लॉग पेज पढ़कर उनको गूगल सर्च में शामिल करना। क्राल करने से रोकने की आखिर आवश्यकता क्या है? ब्लॉगर पर सर्च विकल्प और लेबल एक दूसरे से सम्बद्ध हैं यदि आप ब्लॉग पर लेबल को समझदारी से प्रयोग नहीं करते हैं तो अच्छा यह है आप इनको गूगल के सर्च परिणामों में शामिल न होने दें। गूगल के Default Robots.txt में लेबल को सर्च परिणामों को रोका जाता है ताकि आपके 25 नये लेख ठीक प्रकार से सर्च परिणामों में अपनी जगह सरलता से बना लें। लेबल (Label) क्या हैं? लेबल को आप किसी विधा के रूप में समझ सकते हैं जैसे गद्य और पद्य, अर्थात्‌ यदि आप लेखक हैं तो आपके ब्लॉग पर कहानी की पोस्ट का लेबल गद्य होगा और यदि कविता है तो पद्य। इसी प्रकार से कहानी रोमांटिक (Romantic) है या कि ससपैंस (Suspense) यह भी लेबल हो सकते हैं लेकिन कुछ नये ब्लॉगर लेबल बनाने की समझ नहीं रखते हैं और पोस्ट का कुछ भी लेबल रख देते हैं जिससे गूगल सर्च बॉट (Google search bot) उसे समझ नहीं पाता और गूगल के सर्च परिणामों में आपको नीचे ढकेल देता है। तो इससे बेहतर है कि आप robots.txt में अपने सर्च और और लेबल विकल्प को बंद ही रहने दें और गूगल के डिफ़ॉल्ट robots.txt का प्रयोग करें। robots.txt का प्रयोग करने में बहुत समझदारी बरतनी चाहिए। ताकि आपका ब्लॉग सर्च परिणामों में एकदम नीचे न चला जायें। यदि आप चाहते हैं कि गूगल आपके ब्लॉग की पहली 25 पोस्टों पर अधिक ध्यान दें तो आपको नीचे दिये कोड का प्रयोग करें इसमें गूगल ऐड-सेंस बॉट (Google Adsense bot) को भी आपके ब्लॉग पर कंटेंट क्राल (Content Crawl) करके बेहतर विज्ञापन दिखाने का निर्देश सम्मिलित है। 

Robots.txt Type 1
User-agent: Mediapartners-Google
Disallow: 

User-agent: *
Disallow: /search
Disallow: /b
Allow: /

Sitemap: http://www.example.com/feeds/posts/default?orderby=updated

यदि आप चाहते हैं कि गूगल आपके ब्लॉग की प्रकाशन तिथि के अनुसार अधिकतम 1000 पोस्टों को सर्च परिणामों में शामिल करें तो आपको नीचे दिये कोड का प्रयोग करें इसमें गूगल ऐड-सेंस बॉट को भी आपके ब्लॉग पर कंटेंट क्राल करके बेहतर विज्ञापन दिखाने का निर्देश सम्मिलित है।

Robots.txt Type 2
User-agent: Mediapartners-Google
Disallow: 

User-agent: *
Disallow: /search
Disallow: /b
Allow: /

Sitemap: http://www.example.com/atom.xml?redirect=false&start-index=1&max-results=500
Sitemap: http://www.example.com/atom.xml?redirect=false&start-index=501&max-results=1000

यदि आपको को SEO और इंटरनेट तकनीक का अच्छा अनुभव है और आप अपने ब्लॉग पर लेबल को अच्छे ढंग से प्रबंधित करते आयें हैं तो उपरोक्त दोनों robots.txt में से आप Disallow: /search वाली पंक्ति निकाल सकते हैं|

विशेष:
1. robots.txt प्रयोग करने से पूर्व साइटमैप (Sitemap) में www.example.com को अपने ब्लॉग यू.आर.एल.(URL) से बदलना मत भूलिए।
2. Robots.txt Type 1 या Robots.txt Type 2 के मध्य चुनाव बड़ी सावधानी से करना चाहिए और Disallow: /searchपंक्ति को समझ-बूझकर हटाना चाहिए। मन में कोई दुविधा हो तो Type 1 का ही प्रयोग करें।
Shaadi.com Indian Matrimonials

Friday, February 22, 2013

[Guide] Change Blog URL - ब्लॉग का पता कैसे बदलें? « Tech Prevue

[Guide] Change Blog URL - ब्लॉग का पता कैसे बदलें? « Tech Prevue

Change Blog Address without loosing Old Comments and Followers

आज जब कुछ मित्रवर या नये ब्लॉगर ब्लॉग बनाते हैं तो उसका यू.आर.एल. (Blog URL) मनमाने ढंग से रखते हैं और जिसे किसी की सलाह से बदलने का मन बन जाता है। लेकिन यदि पोस्टें बना दी हों और फॉलोअरों की संख्या बढ़ रही हो तो दूसरा ब्लॉग बनाने का मन बनते-बनेते भी नहीं ब्नता है, क्योंकि पुराने कमेंट और फ़ॉलोअरों की याद सताने लगती है। जैसे कि बिछड़े प्रेमी जाने फिर मिलें न मिलें, कब मिलें। लेकिन ज़रूरत क्या है ब्लॉग बदलने की जब एफ़िडेविट बनाकर आदमी का नाम बदल जाता है तो फिर किसी ब्लॉग का नाम क्या चीज़ है। अरे रुकिए कहाँ चले, ब्लॉग पता बदलने के लिए कोई एफ़िडेविट बनवाने की ज़रूरत नहीं है। बस आप नीचे दिये कुछ चरण अपनाकर ही अपने ब्लॉग का पता बदल सकते हैं। आपके सभी कमेंट व फ़ॉलोअर जैसे के तैसे ही रहेंगे। क्यों है न यह ज़ोरदर ज़बरदस्त बात? आइए जाने कि - 

ब्लॉग का पता कैसे बदलें? How to Blog Address in Blogger?


1. Dashboard › Select your Blog › Go to Settings tab › Blog Address (under Publishing) › Edit › type New address ›Save

चित्रांकन - Pictorial Steps to Change Blog Address / URL


Change Blog URL in Blogger Step 1
Step 1: Change Blog URL without loosing comments and followers

Change Blog URL in Blogger Step 2 and Step 3
Step 2 and Step 3: Change Blog URL without loosing comments and followers


विशेष:
  1. आपके ब्लॉग पर पुराने कमेंट नहीं हटेंगे। You'll not loose comments.
  2. आपके ब्लॉग के फ़ॉलोअरों की संख्या नहीं बदलेगी। You'll not loose Followers.
  3. आपको फ़ीडबर्नर (Feedburner) में नया ब्लॉग पता अपडेट करना होगा। यानि पुराना हटाकर नया भरना होगा। Need to update original feed URL.
  4. फ़ीडबर्नर पर जाने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए

2. फ़ीडबर्नर पर नया ब्लॉग पता अपडेट करने के लिए नीचे दिये चित्र का अनुसरण करें - 

Update Original Feed Address in Feedburner
Step 4, 5 an 6: Update Original Feed Address after Blog URL change

›› Learn How to merge two or more Blogger blogs in to One
›› Learn more tips about Blogger

Thursday, February 21, 2013

अब मिटाये गये पुराने ब्लॉगर ब्लॉग पुन: प्राप्त करें « Tech Prevue

अब मिटाये गये पुराने ब्लॉगर ब्लॉग पुन: प्राप्त करें « Tech PrevueRecover Deleted Blogger Blogs
ब्लॉगर ने एक नयी सुविधा शुरु की है जिसके द्वारा आप अपने मिटाये गये ब्लॉग पुन: प्राप्त कर सकते हैं। इसका मतलब सिर्फ़ इतना नहीं कि आप अपना डिलीटेड ब्लॉग पुन: प्राप्त कर रहे हैं। इसका मतलब यह भी यह है कि आप ब्लॉग डिज़ाइन, अपना पुराना डोमेन नेमऔर सभी पुराने विजेट पुन: प्राप्त कर सकते हैं। सेटिंगस् इतनी सरल कि बस एक क्लिक से सब हो जाता है।

अब आपमें से बहुत से लोग यह कहेंगे कि मुझे पुराना ब्लॉग प्राप्त करने की कोई इच्छा नहीं है। लेकिन आप में से ही बहुत से ऐसे लोग भी हैं जो अपना ब्लॉग तो डिलीट कर देते हैं लेकिन उन्हें अपने पुराने डोमेन नेम की और ब्लॉग के विजेट चाहिए होते हैं। ऐसा अक्सर तब होता है जब आपको वह डोमेन चाहिए होता है जिसमें आपका नाम हो या फिर आपका पसंदीदा कोई दूसरा नाम हो।

विधि पुराने डैशबोर्ड पर:


मिटाया गया ब्लॉग पुन: प्राप्त करने के लिए आपको अपने डैशबोर्ड पर जाना होगा। आपकेडैशबोर्ड का निर्धारित पता http://draft.blogger.com/home है।

आपको अपने डैशबोर्ड पर यह विकल्प देखना और इसे Show All पर क्लिक करके खोलना है।


अब आपको अपने डिलीट किये गये ब्लॉग को पुन: स्थापित करना है जिससे आप उसे प्रयोग कर सकते हैं। इसके लिए आपको Undelete this blog पर क्लिक करना है।

विधि नये डैशबोर्ड पर:


नये डैशबोर्ड पर मिटाये गये ब्लॉग सामने बायीं तरफ़ दिखते हैं उदाहरण: New Dashboard Fig 1.0

तो अब से हो जाइए चिंता मुक्त| सावधानी और पूरे जोश के साथ सार्थक ब्लॉगिंग करते रहिए।

Wednesday, February 20, 2013

Screenr - Screenr.com › स्क्रीन रिकार्डिंग का धमाका « Tech Prevue

Screenr - Screenr.com › स्क्रीन रिकार्डिंग का धमाका « Tech Prevue

Screenr - Screenr.com Screen Recording and Screencasting


यदि आप आप स्क्रीन रिकार्डिंग (Screen recording) कर पायें तो कितना अच्छा हो जबकि इसके लिए आपको अपने कम्पयूटर में किसी सॉफ़्टवेयर को इंस्टाल करने की आवश्यकता न पड़े। इस रिकार्डिंग (Recording) के लिए आपको सिर्फ़ अपने कम्पयूटर पर जावा रनटाइम इंवायर्नमंट संस्करण 6 अथवा 7 (Java runtime environment / JRE v6 or 7) होना चाहिए जो कि सामान्यत: हर कम्पयूटर पर पहले से ही होता है। यदि नहीं हो तो इसे ओरैकल की साइट (Oracle website) [www.oracle.com] से नि:शुल्क डाउनलोड किया जा सकता है। जावा की साइट से भी आप इसे डाउनलोड [www.java.com] कर सकते हैं। यह प्रोफ़ेशन सर्विस (Professional service) आपके विंडोज़ और मैक ओएस (Windows and MAC OS) पर काम करती है और इसके द्वारा बनने वाले विडियों सभी प्रमुख विडियो प्लेयर (Major video player) पर बड़ी आसानी से चल जाते हैं, साथ ही आइफोन (iPhone) पर भी। साथ ही साथ यूटूब व विमिओ (Youtube and Vimeo) पर आसानी से अपलोड (Upload) भी हो जाते हैं।

Screenr - screenr.com
Screenr - screenr.com Welcome Screen

Screenr [screenr.com] आपको यह सब करने की सुविधा देती है। इस बेहतरीन सर्विस का प्रयोग करने के लिए आपको अकांउट/खाता बनाने की भी आवश्यकता नहीं पड़ती है। आप फेसबुक, ट्विटर, गूगल, याहू, लिंक्डिन और विंडोज़ लाइव आइडी (Facebook, Twitter, Google, Yahoo, Linked and Windows Live ID) द्वारा बड़ी आसानी से लॉगिन (Login) कर सकते हैं।

स्क्रीन रिकार्डिंग (Screen recording) करके उसको वेब पर सबके साथ शेअर/साझा करने को स्क्रीनकास्ट (Screencast) कहा जाता है। इसके द्वारा रिकार्ड किये गये विडियो से आप अपनी प्रोफ़ेशनल प्रेज़ेंटेशन (Professional presentation) बना सकते हैं। इसके अतिरिक्त आप इसे मज़े के लिए भी प्रयोग कर सकते हैं क्योंकि इसके द्वारा बनने वाली रिकार्डिंग (Recording) को किसी भी उद्देश्य के लिए किया जा सकता है।

इसे शुरु करने के लिए आपको साइट पर दिया 'Launch screen recorder' बटन दबाना होता है यदि आप रिकार्डिंग (Recording) इतिहास (Recording history) को सहेज करना रखना चाहते हैं तो आपको पहले लॉगिन (Login) होना चाहिए और अपनी प्रयोगकर्ता आइडी (User ID) चुन लेनी चाहिए। जब आप स्क्रीन रिकार्डिंग (Recording) शुरु करते हैं तो आपको नीचे दिये स्क्रीन के अनुसार दिखता है इसमें दिखने वाले लाल बटन पर क्लिक करके आप रिकार्डिंग (Recording) शुरु कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त आपको रिकार्डिंग (Recording) के लिए स्क्रीन साइज़ सेट (Set screen size) करने का भी विकल्प मिलता है। रिकार्डिंग (Recording) करने पर स्क्रीन साइज़ (Screen size) के अनुसार ट्रांस्पैरेंट विंडो (Transparent window) खुल जाती है जिसके चारों ओर बार्डर होता है। इस बार्डर परिसीमा के भीतर दिखने वाला कुछ भी 5 मिनट तक रिकार्ड किया जा सकता है। रिकार्डिंग (Recording) में आपकी आवाज़ भी रिकार्ड होती है। यह स्क्रीनकास्ट (Screencast) पब्लिक और प्राइवेट भी रखा जा सकता है। रिकार्डिंग (Recording) पूरी होने पर आपको क्या इसे Screenr पर सहेजा जाये इस बारे में पूछा जाता है। रिकार्ड किया गया विडियो फेसबुक और ट्विटर पर भी शेअर किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त यह आपको साइटों और फ़ोरमस्‌ में रिकार्डिंग (Recording) विडियो को एम्बेड करने के लिए कोड भी प्रदान करता है। रिकार्डिंग (Recording) को यूटूब पर पब्लिश करने और mp4 format में डाउनलोड करने का भी विकल्प मिलता है।

Screenr - screenr.com - Various Recording Options
Screenr - screenr.com - Various Recording Options

Screenr - screenr.com - Set Username
Screenr - screenr.com - Set Username

Screenr - screenr.com - Pre Recording Before Publishing
Screenr - screenr.com - Pre Recording Before Publishing

Screenr - screenr.com - URL and Embed Code
Screenr - screenr.com - URL and Embed Code

Screenr प्रोफ़ेशनलस्‌ के लिए प्रो सुविधाएँ भी देती है। 5 मिनट से अधिक समय की रिकार्डिंग (Recording) के लिए आपको प्रो अकाउंट लेना पड़ता है।

यदि आप Screenr पर अपलोड न करना चाहें और रिकार्डिंग (Recording) पूरी होने के तुरंत बाद अपने कम्पयूटर से पर ही इसे खोज निकलना चाहते हैं और इसे यूटूब और विमिओ (Youtube and Vimeo) पर अपलोड करना करना चाहते हैं तो इसके लिए थोड़ा-सा ज्ञान सीमा को विस्तार देना होता है। आइए ज्ञान सीमा को विस्तार दें। 

1. Screenr अपलोड शुरु करके 5-10 सेकेण्ड में उसे कैसंल कर दें
2. इसके बाद Window button पर क्लिक कीजिए
3. अब Run prompt में %temp% टाइप कीजिए और...
4. Enter press कीजिए, इससे आप Temp फ़ोल्डर में पहुँच जायेंगे
5. इस फ़ोल्डर के अंदर आपको 'Screenr' नाम का फ़ोल्डर मिल जाएगा
6. इसके अन्दर प्रवेश कीजिए तो आप रिकार्डिंग (Recording) mp4 format में मिल जायेगी
7. इसे Copy करके आप मनचाहे फ़ोल्डर में सुरक्षित रख सकते हैं

आशा करता हूँ कि आप Screenr से लाभांवित हो पायेंगे।

Tuesday, February 19, 2013

5 Best Cloud Storage Services, अब बैकअप की चिंता किसलिए « Tech Prevue

5 Best Cloud Storage Services, अब बैकअप की चिंता किसलिए « Tech Prevue

Top 5 Cloud Storage Services - You must use them to take backup of important data

Cloud Storage Services
आप अपने लिए सुविधानुसार एक क्लाउड स्टोरेज सर्विस (Cloud Storage Service) चुन लीजिए ताकि आप अपनी सभी ज़रूरी डिजिटल फ़ाइलें जैसे डॉक्स, संगीत, फ़ोटो और सॉफ़्टवेयर का आनलाइन बैकअप रख सकें। इसप्रकार सहेजी जाने वाली फ़ाइलें दो प्रकार की हो सकती हैं- पर्सनल और शेअर्ड (Personal and Shared)। पर्सनल वो जिनसे आपके सिवा कोई छेड़-छाड़ नहीं कर सकता और शेअर्ड वो जिनको आपके अलावा पब्लिक या किसी मित्र समूह को सीमित छेड़-छाड़ व परिवर्तन की सुविधा हो। शेअर्ड का फायदा यह है कि यदि आप आनलाइन रहकर अलग-अलग जगह पर रहने वाले मित्रों के साथ कोई प्रोजेक्ट (Project) बनाना चाहते हैं तो भी आप इसी क्लाउड स्टोरेज (Cloud Storage) का प्रयोग कर सकते हैं जिसमें आप कोई भी फाइल या फोल्डर (File or folder) को अपने मित्रों से साझा करते हैं और अपनी सुविधानुसार उसे देखते व परिवर्तित करते हैं। जिससे समय पर प्रोजेक्ट पूरा हो जाता है।

तो है न यह बहुत फायदे की चीज़, आइए जाने की कौन सी अच्छी सुविधाएँ आपकी इस काम में सहायता कर सकती हैं।

DropBox

Space: up to 16 GB

DropBox Cloud Storage

ड्रापबॉक्स (DropBox) की सफलता का कारण फ़ाइल के प्रयोग के लिए डायरेक्ट लिंक और सुरक्षित लिंक का उपलब्ध होना है। इसी कारण इसका दूर-दूर तक कोई सानी नहीं है और यह मार्केट का नम्बर एक प्लेयर है। इस सर्विस पर आप 2GB से शुरुआत करते हैं और ड्रापबॉक्स के बारे में सोशियल मीडिया और दोस्तों के साथ शेअर करके 16GB तक अपना स्टोरेज स्पेस बढ़ा सकते हैं।

शुरुआत करने के लिए अपना अकाउंट बनाकर डेस्कटॉप क्लाइंट इंस्टाल (Install desktop client) कीजिए। इसके बाद पब्लिक फ़ोल्डर में रखी जाने वाली फ़ाइलों को आसानी के साथ लिंक द्वारा किसी से भी शेअर किया जा सकता है। बाक़ी किसी भी फ़ोल्डर में रखी गयी फ़ाइल को आप बड़ी आसानी से प्रबंधित कर सकते हैं। जैसे ही आप इन फ़ोल्डर में फ़ाइल रखते हैं वो ड्रापबॉक्स क्लाउड में स्वत: ही अपलोड हो जाती है। जैसे ही अपलोड पूरा होता है इसका नोटिफ़िकेशन (Notification) आपको प्राप्त हो जाता है। सेटिंग्स के अन्तर्गत अन्य विकल्प भी हैं जिन्हें आप स्वत: प्रबंधित कर सकते हैं।

›› ड्रापबॉक्स को इंस्टाल करने के विषय में अधिक जानकारी के लिए यह पोस्ट पढ़िए।

Supported Devices: Windows ALL, Mac OS, Linux, Mobile: Android, iPhone, iPad, BlackBerry, Kindle Fire
Download: https://www.dropbox.com/
Tour: https://www.dropbox.com/tour
Help: https://www.dropbox.com/help
FAQ: http://www.dropboxwiki.com/Forums_FAQ

Yandex.Disk

Space: up to 10GB

Yandex.Disk Cloud Storage

Yandex.Disk क्लाउड सर्विस को Yandex द्वारा चलाया जा रहा है। Yandex रूस की सबसे बड़ी सर्च इंजन कम्पनी है। Yandex.Disk का अंग्रेजी संस्करण जून 2012 में जारी किया गया है। यह ड्रापबॉक्स के बाद मेरी पहली पसंद है।

यांडेक्स.डिस्क के बारे कुछ बहुत महतवपूर्ण बातें -

1. आसानी से नये कम्प्यूटर पर फ़ाइल ट्रांसफ़र हो जाती है, 
बिना पेन ड्राइव या एक्सटर्नल हार्ड ड्राइव द्वारा के आप यांडेक्स डिस्क पर अपलोड की गयी फाइल नये कम्पयूटर पर खोल सकते हैं 

2. आप फ़ाइल को झट से स्वैप (Swap) कर सकते हैं, 
इसके लिए आप डायरेक्ट डाउनलोड लिंक को यांडेक्स.डिस्क पर लॉगिन करके प्राप्त करें, जिसे अपने मित्रों के साथ सीधे साझा कर सकते हैं

3. आपकी सभी फ़ाइलें सुरक्षित रहती हैं,
अपनी सभी ज़रूरी फ़ाइलों, संगीत कलेक्शन, और पर्सनल फ़ोटोज़ को यांडेक्स.डिस्क पर सहेज सकते हैं। यदि कभी भी आपका कम्पयूटर या स्मार्टफ़ोन खराब हो जाता है तो आप इन फ़ाइलों को बड़ी सहजता के साथ किसी अन्य डिवाइस जिसपर इंटरनेट कनेक्शन हो उसपर खोल या डाउनलोड कर सकते हैं।

4. अपनी फ़ाइलों को सजीव माध्यम में एडिट कीजिए,
आप जिस फाइल पर घर में काम कर रहे थे उसी फाइल को ऑफ़िस में भी देख व एडिट कर सकते हैं और यह फ़ाइल क्लाउड पर सभी परिवर्तनों के साथ Sync हो जाती है

5. असीमित फ़ाइल शेअरिंग,
आप अपने मित्र को किसी भी साइज़ की फाइल ईमेल द्वारा भेज सकते हैं और यह फाइल स्वत: ही यांडेक्स.डिस्क पर जुड़ जाती है। जिसे पब्लिक करके आप अपने मित्रों के साथ शेअर कर सकते हैं और वो फ़ाइल सीधे ही उनके कम्पयूटर पर खुल सकती है।

6. परस्पर सम्बंधित फ़ाइल प्रबंधन,
आप किसी कॉलेज में पढ़ते हों या फिर किसी कम्पनी में काम करते हों। आप एक शेअर्ड फ़ोल्डर बनाकर अपने मित्रों, क्लासमेट, और सहयोगियों के साथ किसी प्रोजेक्ट पर एक साथ काम कर सकते हैं। यदि आप किसी फ़ाइल में कोई बदलाव करते हैं तो वह सभी को पता चलता जाता है।

7. फ़ाइल को सुरक्षित और सरलता से भेजना
यदि आप अपने मित्र को तुरंत ही कोई फाइल भेजना चाहते हैं तो आपको इसे यांडेक्स.डिस्क के पब्लिक फोल्डर में डालकर इसका लिंक अपने मित्र से साझा कर देना चाहिए जिससे आपके मित्र को फाइल कम से कम समय में मिल जाती है।

8. आप अपने सभी डॉक्स को जहाँ जायें वहाँ ले जायें,
आपके द्वारा यांडेक्स.डिस्क पर सहेजी गयीं सभी फ़ाइलें यात्रा के दौरान आसानी से फोन और टैबलेट पर एक्सेस की जा सकती हैं। पासपोर्ट और टिकट के स्कैन, होटेल का रिज़र्वेशन और ऑनलाइन गाइड सभी कुछ यांडेक्स पर आपके निर्देश पर उपलब्ध रहेगा।

9. अपने मोबाइल से झटपट अपने कम्पयूटर पर फोटो भेज सकते हैं,
यांडेक्स.डिस्क आपको यह सुविधा देती है कि आप वायरलेस्ली मोबाइल और कम्पयूटर के मध्य फ़ाइलें भेज सकते हैं। आपके द्वारा फ़ोन पर ली गयीं फ़ोटो और विडियो तुरंत ही आपके यांडेक्स क्लाउड पर सेव हो जाती हैं जिससे आप इसे कभी भी तुरंत ट्रांसफ़र व एक्सेस कर पाते हैं।

10. पॉकेट लाइब्रेरी,
आप ई-बुक्स को यांडेक्स.डिस्क पर सहेजकर उन्हें अपने मोबाइल या टैबलेट पर कहीं भी पढ़ सकते हैं।

11. मोबाइल स्कैनर,
आप किसी भी ज़रूरी डॉक्स जैसे पासपोर्ट और टिकट की फ़ोटो खींचकर इसे यांडेक्स.डिस्क पर Sync करके कहीं भी एक्सेस कर सकते हैं

Supported Devices: Windows ALL, Mac OS X, Linux (Coming soon), Mobile: Android, iOS
Tour: http://disk.yandex.com/howto/
Download: http://disk.yandex.com/download/
Help: http://help.yandex.com/disk

Microsoft SkyDrive

Space: 7GB

Microsoft SkyDrive Cloud Storage

माइक्रोसॉफ़्ट स्काइड्राइव (Microsoft SkyDrive) आपको विंडोज़ लाइव इसेंशियल 2012 के साथ डिफ़ाल्ट आता है| इसका प्रोफ़ेशनल संस्करण आपको ऑफ़िस 2013 के साथ मिलता है। यह विंडोज़ फ़ोन (Windows Phone) पर काम करने वाली अकेली क्लाउड सर्विस है। इसमें बहुत से ऐसे गुण हैं जिसके द्वारा आप क्लाउड स्टोरेज का पूरा लाभ ले सकते हैं। आप इस सुविधा से किसी भी माइक्रोसॉफ़्ट यूज़र आइ.डी. (Microsoft User ID) द्वारा 7GB तक स्पेस (Space) मुफ़्त पा सकते हैं। आप SkyDrive की साइट पर जाकर लॉगिन/रजिस्टर करें उसके बाद डेक्स्टॉप क्लाइंट इंस्टाल करें। आप इससे फाइल और फ़ोल्डर दोनों शेअर कर सकते हैं। आप किसी फाइल के नये और पुराने दोनों संस्करण एक्सेस कर सकते हैं। आप फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डिन और अन्य सोशियल सर्विसेज (Facebook, Twitter, LinkedIn and Social Networks) पर फोटो या डॉक्स शेअर कर सकते हैं। इसमें Yandex.Disk में बताये गये सभी गुण उपलब्ध हैं। SkyDrive पर आप किसी भी शेअर्ड फ़ाइल के 25 नवीनतम संस्करण देख व एक्सेस सकते हैं जिनपर आपके मित्रों व सहयोगियों ने कुछ परिवर्तन किये हों। इसके अतिरिक्त इसमें रिमोट एक्सेस (Remote access) की भी सुविधा है। OneNote से सम्बंधित होने के कारण टचपैड डिवाइसेज़ (Touch Pad devices) पर बेहतरीन सुविधा बन जाती है।

Supported Devices: Windows 7/8, Mac OS X, Mobile: Android, iOS (iPhone and iPad), Windows Phone
Comparison: http://windows.microsoft.com/en-US/skydrive/compare
Download: http://windows.microsoft.com/en-US/skydrive/download
FAQ: http://windows.microsoft.com/en-US/skydrive/windows-app-faq

Google Drive

Space: 5GB

Google Drive Cloud Storage

गूगल ने अपनी सर्विसेज को बेहतर बनाते हुए Google Drive को जारी किया| हममें से बहुतों के लिए यह बहुत अच्छी लगेगी क्योंकि वह अपनी Google ID का प्रयोग करते हुए इसके द्वारा 5GB स्पेस और प्राप्त कर पायेंगे क्योंकि वो गूगल पर आँख बंद करके भरोसा करते हैं। यह न केवल टेक्सट डॉक्स, बल्कि स्कैन फाइल में भी टेक्सट पढ़ व प्रदर्शित कर सकता है और तस्वीर के लिए भी 30 प्रकार (Format) सपोर्ट करता है। यदि क्लाउड पर किसी शेअर्ड डॉक्स में कोई परिवर्तन करता है तो उसे अलग-अलग रंगों में लेबल लगाकर दर्शाया जाता है। इसमें और भी बहुत कुछ है जिसे आप इस्तेमाल करते हुए जानते जायेंगे।

Supported Devices: Windows ALL, Mac OS X, Mobile: Android, iOS (iPhone and iPad), Windows Phone
Download: http://drive.google.com/getstarted
FAQ: http://support.google.com/drive/?hl=en

Amazon Cloud Drive

Space: 5GB

Amazon Cloud Drive Storage

यह स्टोरेज ड्राइव Cloud Player सुविधा के साथ मार्केट में आयी लेकिन इसमें अभी भी editing, sharing और collaboration जैसी सुविधाएँ उपलब्ध नहीं हैं। लेकिन जिनको सिर्फ़ अपना डेटा बचाना है और उसे क्लाउड पर सुरक्षित रखना है उनके लिए 5GB का मुफ़्त स्टोरेज स्पेस काफ़ी है। आप इसमें ई-बुक, डॉक्स, आडियो और विडियो सुरक्षित रख सकते हैं।

Supported Devices: Windows ALL, Mac OS, Mobile: Android, iPhone, iPad, BlackBerry, Kindle Fire
Download: http://www.amazon.com/clouddrive
FAQ: http://www.amazon.com/gp/help/customer/display.html?ie=UTF8&nodeId=200653210

4Sync

Space: up to 15GB

4Sync Cloud Storage

4Sync के शब्दों में ही '4Sync' एक सरल और तेज़ तरीक़ा है जिससे आप क्लाउड पर अपनी फ़ाइलें Sync कर सकते हैं। आप अपनी फ़ाइलों को कहीं से भी एक्सेस कर सकते हैं। आप सभी सपोर्टेड डिवाइसेज़ पर बड़ी आसानी से 15GB तक Sync कर सकते हैं।

Supported Devices: Windows ALL, Mac OS, Linux, Mobile: Android, iPhone, Blackberry, Symbian
Tour: http://www.4sync.com/tour.jsp
Download: http://www.4shared.com/download4sync
Help: http://www.4sync.com/help_win.jsp

Otixo: All your cloud files from a single login


Otixo All your cloud files from a single login

यदि आप उपरोक्त सभी सर्विसेज को एक साथ प्रयोग व एक्सेस करना चाहते हैं तो Otixo आपके लिए एक सुविधाजनक चीज़ हो सकती है। आप Otixo पर रजिस्टर कीजिए और शुरु हो जाएगा आपका सुहाना मुफ़्त क्लाउड स्टोरेज पाने और प्रबंधित करने का सफ़र। आप इसके द्वारा बस ड्रैग और ड्राप सुविधा के द्वारा एक क्लाउड की फ़ाइल दूसरे क्लाउड में भेज सकते हैं। प्रयोग की सीमा यह है कि आप मुफ़्त खाते से एक महीने में 2GB डेटा ही ट्रांसफ़र कर सकते हैं।

Otixo Main Features


Website: http://otixo.com/

Shaadi.com Indian Matrimonials

c

cj b r

chi hi

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
There was an error in this gadget

chi hover

page no

Blogger Tips And Tricks|Latest Tips For Bloggers Free Backlinks

adsring