Grab the widget  Get Widgets

reward me free sg

A

a tag

chi

via converter

Tuesday, April 16, 2013

sangam: RedAlert.Bureau: net sarfig se kamai

sangam: RedAlert.Bureau: net sarfig se kamai

अपनी लिखी सामिग्री का ऑडियो बनाएं | ultapulta

अपनी लिखी सामिग्री का ऑडियो बनाएं | ultapulta


नोज जैसवाल : सभी पाठकों को मेरा प्यार भरा नमस्कार।मेरी लिखी ओरिजनल पोस्ट मेरी खुद की ग़लती से डिलीट हो गयी,इसके लिए मैं खेद प्रगट करता हूँ एंव उम्मीद करता हूँ कोई भी पाठक मुझे इसे वापस कैसे मिले इसका कोई रास्ता बताये, हालाकि इस पोस्ट को उसी पोस्ट पर रिडायरेक्ट कर रहा हूँ। अपनी लिखी सामिग्री का की ऑडियो फाइल बन जाएं तो होगा ना दिलचस्प। टेक्सट मैटर की ऑडियो फाइल बनाने के बाद आप उसे भविष्‍य में सुनने के लिए सेव कर सकते हैं या फिर अपने ब्लॉग पर भी शेयर कर सकते हैं। टेक्सट को ऑडियो और ऑडियो को टेक्‍स्ट में बदलने के लिए कई वेबसाइट सर्विस मुहैया कराती है। इस तकनीक पर पिछले कई सालों से काम हो रहा है। बात करते हैं ऐसी ही कुछ वेबसाइटों की जिन पर जाकर आप अपने मैटर को ऑडियो फाइल में कनवर्ट कर सकते हैं।



www.spokentext.net
स्पोकन टेक्सट डॉट नेट टेक्सट को ऑडियो और ऑडियो को टेक्‍स्ट में कनवर्ट करने की सुविधा देती है। यदि आप इसे यूज करना चाहते हैं तो इसके लिए पहले आपको इस पर अकाउंट बनाना होगा। इस पर जाकर आप अंग्रेजी, फ्रेंच, स्पेनिश और जर्मन में लिखे हुए मैटर को ऑडियो में कनवर्ट कर सकते हैं। इन्हीं चारों भाषाओं की ऑडियो फाइल को आप टेक्सट में भी कनवर्ट करके पीडीएफ, वर्ड और पावर प्वाइंट फाइल बना सकते हैं। इस साइट का ट्रायल फ्री है, इसके बाद की सर्विसेज के लिए आपको शुल्क अदा करनी पड़ती है।

www.readthewords.com
रीडदवर्डस डॉट कॉम पर आप अपना अकाउंट बनाकर फ्री में टेक्सट मैटर की ऑडियो फाइल बना सकते हैं। रीडदवर्डस डॉट कॉम का इंटरफेस भी काफी आसान है। इस साइट की शुरूआत जनवरी 2008 में उन ‌छात्रों को ध्यान में रखकर की गई थी जो पढ़ नहीं सकते लेकिन ऑडियो को आसानी से सुन सकते हैं।

www.imtranslator.com
आइएमट्रांसलेटर डॉट काम पर चाइनीज, फ्रेंच, इंग्लिश और जापानी के साथ आप दुनिया की करीब 52 भाषाओं के टेक्सट मैटर की ऑडियो फाइल तैयार कर सकते हैं। आइएमट्रांसलेटर डॉट काम पर आप हिंदी मैटर की भी ऑ‌डियो फाइल बना सकते हैं। इसकी स्‍थापना 1993 में की गई थी लेकिन इसने काम करना शुरू साल 2000 में किया। ये काफी पॉपुलर वेबसाइट है।

www.ispeech.org
आइस्पीच डॉट ओआरजी पर जाकर आप टेक्स्ट को पेस्ट कर कर दें, यह सिंगल क्लिक में उसकी ऑडियो फाइल तैयार कर देगा। इसकी सुविधाओं के लिए भी आपको एक नियत कीमत अदा करनी होती है। इसके अलावा आप odiogo.com और www.text2speech.org के जरिए भी टेक्सट मैटर की ऑडियो रिकार्डिंग कर सकते हैं।

Shaadi.com Indian Matrimonials

Friday, April 12, 2013

Windows 8 को फुल वर्जन में बदले

कंप्यूटर दुनिया 

Link to Computer Duniya



मेरी पिछली पोस्ट के द्वारा आप विंडो 8 डालना सीख ही गये होंगे। जो विंडो 8 आपने डाली होगी वो 90 दिन तक वेलिट है। उसके बाद या तो आपको उसे खरीदना होगा या फिर गूगल देवता की शरण में जाकर उसे पूरा करने का जुगाड खोजना होगा।
 गूगल देवता की साहयता से ही आज की पोस्ट में आप लोगो के लिए वो टूल लेकर आया हु। जिसे चलाने के बाद आपकी विंडो 8 फुल वर्जन में बदल जायेगी। अगर आप अपनी विंडो 8 को फुल वर्जन में बदलना चाहते है तो यहाँ क्लीक करके इस टूल को डाउनलोड करे और दिए गये निर्देशो का पालन करते हुवे आगे बढे। थोड़ी देर इन्तजार करे आपका सिस्टम रिस्टार्ट होने के बाद दुबारा खुलेगा खुलने के बाद आपकी विंडो फुल वर्जन में बदल चुकी होगी। जिसकी जानकारी आप My Computer की प्रोपर्टी पर क्लीक करके ले सकते हो.

Window 7 को फुल वर्जन करने की जानकारी आपको यहाँ मिलेगी

विंडो XP को फुल वर्जन करने के लिए ये पोस्ट पढ़े

Sunday, April 7, 2013

ऑडियो बनाएं अपनी लिखी सामिग्री का


नोज जैसवाल : सभी पाठकों को मेरा प्यार भरा नमस्कार।आपके द्वारा लिखी गई सामिग्री की ऑडियो फाइल बन जाएं तो होगा ना दिलचस्प। टेक्सट मैटर की ऑडियो फाइल बनाने के बाद आप उसे भविष्‍य में सुनने के लिए सेव कर सकते हैं या फिर अपने ब्लॉग पर भी शेयर कर सकते हैं। टेक्सट को ऑडियो और ऑडियो को टेक्‍स्ट में बदलने के लिए कई वेबसाइट सर्विस मुहैया कराती है। इस तकनीक पर पिछले कई सालों से काम हो रहा है। बात करते हैं ऐसी ही कुछ वेबसाइटों की जिन पर जाकर आप अपने मैटर को ऑडियो फाइल में कनवर्ट कर सकते हैं।



www.spokentext.net
स्पोकन टेक्सट डॉट नेट टेक्सट को ऑडियो और ऑडियो को टेक्‍स्ट में कनवर्ट करने की सुविधा देती है। यदि आप इसे यूज करना चाहते हैं तो इसके लिए पहले आपको इस पर एकाउंट बनाना होगा। इस पर जाकर आप अंग्रेजी, फ्रेंच, स्पेनिश और जर्मन में लिखे हुए मैटर को ऑडियो में कनवर्ट कर सकते हैं। इन्हीं चारों भाषाओं की ऑडियो फाइल को आप टेक्सट में भी कनवर्ट करके पीडीएफ, वर्ड और पावर प्वाइंट फाइल बना सकते हैं। इस साइट का ट्रायल फ्री है, इसके बाद की सर्विसेज के लिए आपको शुल्क अदा करनी पड़ती है।

www.readthewords.com
रीडदवर्डस डॉट कॉम पर आप अपना अकाउंट बनाकर फ्री में टेक्सट मैटर की ऑडियो फाइल बना सकते हैं। रीडदवर्डस डॉट कॉम का इंटरफेस भी काफी आसान है। इस साइट की शुरूआत जनवरी 2008 में उन ‌छात्रों को ध्यान में रखकर की गई थी जो पढ़ नहीं सकते लेकिन ऑडियो को आसानी से सुन सकते हैं।

www.imtranslator.com
आइएमट्रांसलेटर डॉट काम पर चाइनीज, फ्रेंच, इंग्लिश और जापानी के साथ आप दुनिया की करीब 52 भाषाओं के टेक्सट मैटर की ऑडियो फाइल तैयार कर सकते हैं। आइएमट्रांसलेटर डॉट काम पर आप हिंदी मैटर की भी ऑ‌डियो फाइल बना सकते हैं। इसकी स्‍थापना 1993 में की गई थी लेकिन इसने काम करना शुरू साल 2000 में किया। ये काफी पॉपुलर वेबसाइट है।

www.ispeech.org
आइस्पीच डॉट ओआरजी पर जाकर आप टेक्स्ट को पेस्ट कर कर दें, यह सिंगल क्लिक में उसकी ऑडियो फाइल तैयार कर देगा। इसकी सुविधाओं के लिए भी आपको एक नियत कीमत अदा करनी होती है। इसके अलावा आप odiogo.com और www.text2speech.org के जरिए भी टेक्सट मैटर की ऑडियो रिकार्डिंग कर सकते हैं।

Friday, April 5, 2013

गूगल रीडर बन्द हो रहा है, दूसरे फीड रीडर विकल्प




गूगल रीडर के प्रयोक्ताओं के लिये निराशाजनक समाचार है। गूगल १ जुलाई से इसे बन्द करने जा रहा है। गूगल ने अपने ब्लॉग पर “A second spring of cleaning” नामक ब्लॉग पोस्ट में इस आशय की घोषणा की। यह गूगल रीडर के प्रयोक्ताओं के लिये बड़ा झटका है। गूगल के इस निर्णय से प्रयोक्ताओं में काफी निराशा तथा नाराजगी है। यहाँ तक कि ट्विटर पर ‘Google Reader’ ट्रेंडिंग टॉपिक भी बन गया।
Google_reader_shutting_down
गूगल रीडर सर्वाधिक लोकप्रिय फीड रीडर है। यह एक क्लाउड आधारित फीड सिंकिंग सेवा है। हिन्दी चिट्ठाकारों में भी यह ब्लॉग पठन के लिये लोकप्रिय है। यह एक वेब ऍप है जिसे किसी भी डिवाइस पर प्रयोग किया जा सकता है। इसका इंटरफेस सरल तथा प्रयोक्ता मित्र है। मोबाइल डिवाइसों पर मिनिमल इंटरफेस पठनीयता को और बढ़ा देता है। इस पर कई फीड रीडर ऍप्लिकेशनें आधारित हैं। गूगल द्वारा इसे बन्द करने का कारण इसका प्रयोग घटना बताया गया है। वह कम सेवाओं पर अपना ध्यान केन्द्रित करना चाहता है। इसके साथ बन्द होने जा रही कुछ अन्य सेवाओं में स्नैपसीड (मॅक तथा विण्डोज़ संस्करण), ब्लैकबेरी गूगल वॉइस ऍप तथा गूगल ऑफिस क्लाउड कनैक्ट प्लगइन शामिल हैं। इससे पहले भी गूगल स्क्रिप्ट कन्वर्टर जैसी बेहतरीन सेवा बन्द कर चुका है। हालाँकि इस ब्लॉग पोस्ट के अनुसार गूगल रीडर अब भी गूगल+ से अधिक ट्रैफिक प्राप्त करता है। कइयों को लगता है कि रीडर को बन्द करना गूगल प्लस पर शेयरिंग बढ़ाने की सोची-समझी रणनीति है।
हाल के वर्षों में सोशल नेटवर्किंग सेवाओं का प्रचलन बढ़ने से फीड रीडरों का उपयोग घटा है लेकिन अब भी ये उन लोगों के लिये आवश्यक है जो कई वेबसाइटों तथा ब्लॉगों की वेब फीड को फॉलो करते हैं। खैर गूगल रीडर के विकल्प उपलब्ध हैं हालाँकि सम्भवतः कोई भी उस  जितना अच्छा शायद न हो। नेटवाइब्स गूगल रीडर जैसे इंटरफेस वाला एक लोकप्रिय वेब रीडर है। न्यूजब्लर एक अन्य रीडर है जिसका इंटरफेस काफी कुछ गूगल रीडर जैसा है। इसकी ऍण्ड्रॉइडतथा आइओऍस ऍप्स भी उपलब्ध हैं। समस्या ये है कि मुफ्त संस्करण में कुछ सीमायें हैं। फीडली एक वेब रीडर है जिसका गैर-पारम्परिक इंटरफेस न्यूजपेपर शैली का है। इसे प्रयोग करने हेतु आपको क्रोम या फायरफॉक्स ऍक्सटेंशन इंस्टॉल करनी होगी। फीडली को आप गूगल रीडर से सिंक कर सकते हैं। गूगल रीडर से इस पर शिफ्ट होना आसान बनाने के लिये सने घोषणा की है कि गूगल रीडर के बन्द होने पर यह स्वतः काम करना जारी रखेगा। पल्सताप्तू, फ्लिपबोर्ड आदि कुछ अन्य नाम हैं। फ्लिपबोर्ड पहले से लोकप्रिय है लेकिन यह केवल ऍण्ड्रॉइड तथा आइओऍस के लिये उपलब्ध है, डैस्कटॉप के लिये नहीं।
आपका अगला काम होगा गूगल रीडर की फीड को नये रीडर में इम्पोर्ट करना। इसके लिये आप गूगल टेकआउट के उपयोग से गूगल रीडर की सैटिंग ऍक्सपोर्ट कर सकते हैं।
  1. गूगल टेकआउट के रीडर पेज पर जायें तथा Create Archive बटन दबायें। यह आपकी सभी फीड सब्स्क्रिप्शन तथा अन्य जानकारियों जैसे स्टार आइटम आदि युक्त एक जिप फाइल बना देगा। हालाँकि अधिकतर नये रीडर इन अन्य जानकारियों को इम्पोर्ट न कर पायेंगे।
  2. काम पूरा हो जाने पर डाउनलोड बटन दबाकर फाइल उतार लें।
  3. जिप फाइल को खोलें। इसमें एक Reader  नामक फोल्डर होगा जिसमें subsciptions.xml नामक फाइल होगी। इसे डैस्कटॉप पर ऍक्सट्रैक्ट कर लें।
  4. अपना नया चुना फीड रीडर खोलें। इसकी सैटिंग्स में जायें तथा इम्पोर्ट का विकल्प खोजकर subsciptions.xml नामक फाइल को आयात कर लें। आपकी सभी फीड नये रीडर में आ जायेंगी।
आपके पास नया फीड रीडर चुनने के लिये तीन महीने का समय है। फिलहाल गूगल रीडर प्रयोग करते रहें और साथ-साथ विभिन्न सेवायें आजमा कर देखें कि कौन सी आपके लिये सबसे सही है। गूगल रीडर की सैटिंग्स का एकाध बैकअप अब ले लें और एक जून के अन्त में लेकर नयी चुनी सेवा पर शिफ्ट हो जायें। वैसे फीडली जैसी कुछ सेवायें उपर्युक्त प्रक्रिया को आजमाये बिना भी गूगल रीडर से सिंक करके आपकी फीड सब्स्क्रिप्शन को वहाँ आयात कर रही हैं। इससे आप उन्हें गूगल रीडर के साथ-साथ प्रयोग करते रह सकते हैं।
सोशल नेटवर्किंग सेवाओं के प्रचलन से भले फीड का उपयोग घटा हो लेकिन अब भी यह काफी उपयोग होता है और फिलहाल लम्बे समय तक होता रहेगा। यह समझ नहीं आता कि जब गूगल पच्चीसों बेकार सेवायें जारी रख सकता है तो एक इस उपयोगी और लोकप्रिय सेवा को क्यों नहीं। यदि उसे इससे विशेष लाभ न भी हो रहा हो तो भी गूगल जैसी कम्पनी के लिये इसे चलाये रखना कोई बड़ी बात नहीं। गूगल का अन्दाजा नहीं कि इस कदम से ब्लॉगरों को कितना नुकसान होगा। यदि आप सहमत हैं तो चेंज.ऑर्ग पर या KeepGoogleReader.com पर पिटीशन साइन करें।
Google reader is shutting down

c

cj b r

chi hi

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
There was an error in this gadget

chi hover

page no

Blogger Tips And Tricks|Latest Tips For Bloggers Free Backlinks

adsring