Grab the widget  Get Widgets

reward me free sg

A

a tag

chi

via converter

Sunday, June 30, 2013

कार का कॉकपिट और उसका ब्लैक बॉक्स,black box in car

मेरी 

अभी उत्तराखंड त्रासदी से जूझते वायु सेना के हेलीकाप्टर के दुर्घटनाग्रस्त हो जाने पर उसके ब्लैक बॉक्स की चर्चा हुई तो मुझे अपनी गाड़ी में लगे ब्लैक बॉक्स का ध्यान आया. ब्लैक बॉक्स के नाम से बस एक ही तस्वीर सामने आती है वो होती है हवाई ज़हाज़ की.
इस ब्लैक बॉक्स के सहारे किसी दुर्घटना की स्थिति में हवाई ज़हाज़ केविभिन्न मापदंडों में हुए उतार चढ़ाव का लेखा जोखा (Flight Data Recorder -FDR) देख कर तथा चालक केबिन की आवाजें (Cockpit Voice Recorder -CVR) सुनकर यह सुनिश्चित किया जाता है कि आखिर दुर्घटना के अंतिम क्षणों में हुआ क्या था?
मेरी कार में ऐसा ही एक ब्लैक बॉक्स लगा हुआ है, आज उसी पर बात की जाए.
पहले थोड़ी जानकारी हो जाए हवाई ज़हाज़ के ब्लैक बॉक्स की. इस ब्लैक बॉक्स में उड़ान के पिछले 25 घंटों के दौरान गति, ऊँचाई, तापमान, वायु दबाव जैसे लगभग 50 मापदंडों का हिसाब रखा जाता है, चालाक केबिन में होने वाली आवाजों का 2 घंटों तक का रिकॉर्ड रहता है, इससे जानकारियाँ निकालने के लिए विशेषज्ञों की आवश्यकता होती है. कीमत होती है लगभग 20,000 अमेरिकी डॉलर.
पिछले दिनों फ़ॉरेस्ट एवेन्यू पर जवाहर उद्यान चौक पर गलत दिशा से आता एक बाईक सवार मेरी मारूति ईको की चपेट में आते आते बचा. वो तो गनीमत थी कि ठीक उसी समय पुलिस की जीप वहां से गुजर रही थी जिसमे सवार लोगों ने सारा नज़ारा देखा और उस युवक को ले गए आगे की कार्यवाही के लिए. वे ना होते और अगर ज़रा सी खरोंच भी आती उस बच्चे को तो क़ानून, समाज का सारा नज़ला मुझ पर ही गिरना तय था.
ऎसी ही दो घटनाएँ और हुईं. तब मैंने इस ब्लैक बॉक्स को लगाने का निर्णय लिया जिसकी कीमत है महज 5800 रूपए.
blackbox-car-bspabla
स्थानीय बाज़ार में यह मिला नहीं.  ई-बे के सहारे यह 5 दिनों में घर पहुँच गया. विंडस्क्रीन पर बड़ी आसानी से वैक्यूम आधार के कारण फिट भी हो गया. गाड़ी में लगे 12 वोल्ट के सिगरेट लाईटर से एक विशिष्ट एडाप्टर के सहारे जोड़ कर इसे 5 वोल्ट भी दे दिए गए. जीपीएस सेंसर अलग से दिया गया है उसे भी जोड़ दिया गया, उपकरण की ज़रूरी सेटिंग्स की गई और फिर हम उत्सुकता के मारे भाग खड़े हुए टेस्टिंग के लिए.
आगे-पीछे लगे दोहरे कैमरे वाले इस उपकरण पर देखने वाले को इसकी 2.7 इंच की स्क्रीन पर महज वीडियो ही नज़र आता है. चाहें तो इस वीडियो को केवल अंदर का ही देख लें, चाहें तो केवल बाहर का और मन करे तो दोनों एक साथ दिख जायेंगे.
car-blackbox-settings-bspabla
कार के ब्लैक बॉक्स की सेटिंग्स
खूबियाँ तो बहुत हैं. दोहरे कैमरे हैं. बाहरी कैमरा 140 अंश के कोण तक के दृश्य समेटता है तो अंदरूनी कैमरा 120 अंश तक वाहन के अंदर के दृश्य फिल्माता चलता है. साथ ही साथ उपकरण का माईक, गाड़ी के अंदर के सारे वार्तालाप भी रिकॉर्ड करता जाता है
खड़े वाहन को कोई टक्कर मार दे, तीखे ब्रेक लगा कर चलते वाहन को एकाएक रूकना पड़े, स्पीड ब्रेकर पर उछलना हो, गड्ढे में गोता लगाना पड़े. यह सब X, Y , Z आयाम इस ब्लैक बॉक्स में दर्ज हो जाते हैं G-Sensor के सहारे.
जीपीएस के द्वारा कार की सारी भौगोलिक स्थिति भी रिकॉर्ड होते जाती है जिसे गूगल मैप्स पर सेकेण्ड दर सेकेण्ड देखा जा सकता है.
मेरी मारूति ईको में लगा ब्लैक बॉक्स
मेरी मारूति ईको में लगा ब्लैक बॉक्स
उपकरण में बाहरी मेमोरी कार्ड होना ज़रूरी है जो साथ में नहीं दिया जाता. अधिकतम क्षमता 32 जीबी की है जो मुझे बाज़ार में 1000 रूपए की मिली.इसके द्वारा, दोहरे कैमरे सहित आवाज़ की रिकॉर्डिंग लगभग 7 घंटे की हो जाती है.
यदि मेमोरी कार्ड भर जाए तो ये उपकरण सबसे पहली रिकॉर्डिंग हटा कर उसके स्थान पर स्वयं ताज़ा रिकॉर्डिंग प्रारंभ कर देता है. याने कि लूप रिकॉर्डिंग. ज़्यादा स्पष्ट तरीके से कहा जाए तो किसी भी क्षण, अंतिम 7 घंटों का डाटा हमेशा मौजूद मिलेगा.
black-box-slots-bspabla
वैसे तो इसी उपकरण में, रिकॉर्ड हुआ साधारण वीडियो-ऑडियो पुन: चला कर देख सुन सकते हैं. किंतु संवेदनशील डाटा तभी दिखेगा जबमेमोरी कार्ड को निकाल कर कंप्यूटर से जोड़ा जाए.
blackbox-car-playback-bspabla
रात की मद्धिम रोशनी वाले दृश्य भी फिल्मा सकने वाले इस यंत्र को कई लोग ‘चोंचला’ भी कह सकते हैं और दिखावा भी. लेकिन आजकल सड़क पर हो रहीं छोटी छोटी अनहोनी कब भारी मुसीबत बन जाए कहा नहीं जा सकता. बीमा कंपनियां भी अब बेहद सतर्क रहती हैं किसी घातक दुर्घटना के परिदृश्य में. और अपने सारे जीवनकाल में इस ब्लैक बॉक्स की कीमत तो सालाना वाहन बीमा राशि से भी कम है. फिर तकनीक का लाभ क्यों ना उठाया जाए अपने बचाव में?
क्या ख्याल है आपका?
इस लेख का मूल्यांकन करें
Vote Saved. Rating: 9.7/10
मेरी कार का कॉकपिट और उसका ब्लैक बॉक्स9.7 out of 10 based on 6 ratings 

Saturday, June 29, 2013

How to export your feed list from Google Reader,गूगल रीडर से अपनी फ़ीड सूची कैसे निर्यात करें.

Posted: 16 Jun 2013 08:52 AM PDT
गूगल रीडर जुलाई से बंद हो रहा है.
पर, राहत की बात यह है कि आप गूगल रीडर से अपने सब्सक्राइब किए फ़ीड की सूची एक्सएमएल फ़ाइल के रूप में निर्यात कर सकते हैं जिसे आप अन्य फ़ीड रीडरों में इम्पोर्ट कर उपयोग में बखूबी ला सकते हैं.
और, आपके पास फ़ीड पढ़ने के लिए, इंटरनेट पर मुफ़्त के विकल्पों की कमी नहीं है.
एक शानदार फ़ीड रीडर है ऑपेरा ब्राउज़र का अंतर्निर्मित फ़ीड-रीडर. यह कुछ मामलों में गूगल रीडर से भी बेहतर है, और ऑफ़लाइन रीडिंग की भी सुविधा प्रदान करता है.
तो आइए, अपनी फ़ीड सूची गूगल रीडर से एक्सपोर्ट कर ओपेरा ब्राउज़र में इम्पोर्ट करते हैं.
सबसे पहले पसंदीदा ब्राउज़र में अपने जीमेल खाते में लॉगइन करें. फिर गूगल टेकआउट साइट [लिंक - https://www.google.com/takeout/ ] पर जाएं. टेकआउट यह सुविधा है जिससे आप अपने गूगल खाता की सामग्री को डाउनलोड कर संग्रह कर सकते हैं. हो सकता है कि आपको फिर से यूजरनेम व पासवर्ड के लिए पूछा जाए. गूगल टेकआउट में अपने खाते पर जाने के उपरांत आपको कुछ इस तरह से दिखेगा -
clip_image001
यहाँ पर सेवाएं चुनें बटन पर क्लिक करें और अगले विंडो पर रीडर बटन पर क्लिक करें. आपको कुछ ऐसा दिखेगा –
clip_image002
संग्रह बनाएं पर क्लिक करें. कुछ समय पश्चात आपका संग्रह बन जाएगा और फिर उसके बाद डाउनलोड बटन पर क्लिक करें. आपको कुछ ऐसा दिखेगा
clip_image003
यहाँ फिर से डाउनलोड करें नामक नीले बटन को क्लिक करें.
यह जिप फ़ाइल के रूप में आपके कंप्यूटर पर आपके वांछित स्थान पर सहेज लिया जाएगा. इसे अनजिप करें. इसमें आपको अन्य फ़ाइलों के साथ एक subscriptions.xml नाम की फ़ाइल मिलेगी. इसी में आपके तमाम फ़ीड के पते दर्ज हैं.
अब आप ओपेरा ब्राउज़र चालू करें. या फिर कोई अन्य फ़ीड रीडर भी जिसमें एक्सएमएल फ़ाइल से फ़ीड सूची आयात करने की सुविधा हो. ओपेरा ब्राउज़र में फ़ाइल > आयात और निर्यात > फ़ीड सूची आयात करें मेनू में जाएं और इस subscriptions.xml नाम की फ़ाइल को आयात कर लें.
clip_image004
बस, आपका काम हो गया.
अब आप ओपेरा ब्राउज़र के आपूर्तियाँ मेनू में जाकर अपने पसंदीदा फ़ीड को ऑनलाइन-ऑफ़लाइन पढ़ सकते हैं.
clip_image005
हैप्पी फ़ीड रीडिंग!

c

cj b r

chi hi

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
There was an error in this gadget

chi hover

page no

Blogger Tips And Tricks|Latest Tips For Bloggers Free Backlinks

adsring